सनातनी इतिहास

History Of Bharat

अजीब लगता है जबकि भारत में सिकंदर को महान कहा जाता है और उस पर गीत लिखे जाते हैं। उस पर तो फिल्में भी बनी हैं जिसमें उसे महान बताया गया और एक कहावत भी निर्मित हो गई है- ‘जो जीता वही सिकंदर’। यह कहानी […]

रामायण काल में विमान एवम उनके प्रचालन

रावण का वध करने के बाद राम और सीता पुष्पक विमान से अयोध्या वापस लौटे थे। यह विमान रावण का सौतेले भाई कुबेर का था। जिसे रावण ने बल पूर्वक छिना लिया था। इसे रावण के एयरपोर्ट हैंगर से उड़ाया जाता था। रावण के बाद […]

पृथ्वी के चार अरब वर्षों के इतिहास में हम आज जीवित हैं

कितना उत्तेजक और गौरव पूर्ण विचार है कि पृथ्वी के चार अरब वर्षों के इतिहास में हम आज जीवित हैं। मै और आप इतने भाग्यशाली हैं कि लगभग पचासी करोड़ से ज्यादा प्रजातियों में हम एक चेतना संपन्न प्राणी मनुष्य के रूप में उत्पन्न हुए। […]

खुड्डी उकड़ू_बैठना नित्यक्रिया शौच

पहले सब वही पोस्चर यूज करते थे..   गरीब भी और अमीर भी। हाँ किसी किताब विशेष में किसी खास तरीके की हिदायत दी गई हो तो मुझे नहीं मालूम।   सुबह हो या शाम या फिर कोई और समय…. अकेले हो या समूह में […]

शुन्य की खोज

शुन्य की खोज

अगर शुन्य की खोज अभी हुई है तो कोरवो की गिनती कैसे की गई थी   कुछ लोग हिन्दू धर्म व “रामायण” महाभारत “गीता” को काल्पनिक दिखाने के लिए यह प्रश्न करते है कि जब आर्यभट्ट ने लगभग 6 वी शताब्दी मे (शून्य/जीरो) की खोज […]

वैदिक समयगणना – Sanatani

वैदिक समयगणना विश्व का सबसे बड़ा भारतीय और वैज्ञानिक समय गणना तन्त्र (ऋषि मुनियो का अनुसंधान ) ■ क्रति = सैकन्ड का 34000 वाँ भाग■ 1 त्रुति = सैकन्ड का 300 वाँ भाग■ 2 त्रुति = 1 लव ,■ 1 लव = 1 क्षण■ 30 […]

ॐ का रहस्य क्या है?

मन पर नियन्त्रण करके शब्दों का उच्चारण करने की क्रिया को मन्त्र कहते है। मन्त्र विज्ञान का सबसे ज्यादा प्रभाव हमारे मन व तन पर पड़ता है। मन्त्र का जाप एक मानसिक क्रिया है। कहा जाता है कि जैसा रहेगा मन वैसा रहेगा तन। यानि […]

द्रौपदी के पांच पति थे 200 वर्षों से प्रचारित झूठ का खंडन

कौन कहता है कि द्रौपदी के पांच पति थे 200 वर्षों से प्रचारित झूठ का खंडन -👇👇👇 द्रौपदी का एक ही पति था- युधिष्ठिर   जर्मन के संस्कृत जानकार मैक्स मूलर को जब विलियम हंटर की कमेटी के कहने पर वैदिक धर्म के आर्य ग्रंथों […]

धातु शिल्प की अद्भुत कलाकृति

नई दिल्ली के महरौली क्षेत्र में स्थित विश्वविख्यात कुतुबमीनार के परिसर में जो विशाल आवासीय तथा अन्य इमारतें कभी गगनमंडल का चुंबन किया करती थीं, अब खंडहरों में बदली हुई विद्यमान हैं।       उन्हीं में से एक है, कुतुबद्दीन ऐबक (राज्याभिषेक १२०५) व […]

महर्षि अगस्त्य ने किया था बिजली का आविष्कार

the invention of electricity

प्राचीनकाल में ऊंचे उड़ने वाले गुब्बारे, पैराशूट, बिजली और बैटरी जैसे कई उपकरण थे। भारत के ऋषियों ने धर्म के साथ ही विज्ञान का भी विकास किया था। उस काल में वायुयान होते थे, बिजली होती थी, अंतरिक्ष में सफर करने के लिए अंतरिक्ष यान […]